Breaking :
||झारखंड में भीषण गर्मी से मिलेगी राहत, 20 जून तक मानसून करेगा प्रवेश||पलामू: बालिका गृह में दुष्कर्म पीड़िता की बहन की मौत, मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में हुआ पोस्टमार्टम||सतबरवा प्रखंड के रैयतों ने सांसद से की मुलाकात, उचित मुआवजा दिलाने की मांग||पलामू में तीन अलग-अलग सड़क हादसों में तीन की मौत, नेतरहाट घूमने जा रहा एक पर्यटक भी शामिल||केंद्रीय मंत्री शिवराज व असम के मुख्यमंत्री हिमंता झारखंड विधान सभा चुनाव में भाजपा का करेंगे बेड़ापार||झारखंड में पांच नक्सली ढेर, एक महिला नक्सली समेत दो गिरफ्तार, हथियार बरामद||अब स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग स्कूली बच्चों को नशीले पदार्थो के सेवन से होने वाले दुष्प्रभावों के बारे में करेगा जागरूक||लातेहार: बालूमाथ में अनियंत्रित बाइक दुर्घटनाग्रस्त, दो युवक घायल, सांसद ने पहुंचाया अस्पताल, दोनों रिम्स रेफर||15 ऐसे महत्वपूर्ण कानून और कानूनी अधिकार जो हर भारतीय को जरूर जानने चाहिए||लातेहार में तेज रफ्तार बोलेरो ने घर में सो रहे पांच लोगों को रौंदा, एक की मौत, चार रिम्स रेफर
Tuesday, June 18, 2024
गढ़वापलामू प्रमंडल

गढ़वा: भूत भगाने के नाम पर मौसा ने रिश्ते को किया शर्मसार, लड़की के साथ किया गंदा काम

गढ़वा : महिलाएं अक्सर भूत-प्रेत के नाम पर ओझा-गुणी की हवस का शिकार हो जाती हैं। लेकिन अभी भी लोगों में इसको लेकर जागरूकता की कमी है।

ऐसा ही मामला भवनाथपुर थाना क्षेत्र के एक गांव में हुआ है, जहां इलाज के बहाने एक युवती को उसके मौसा ने झाड़फूंक के बहाने हवस का शिकार बनाया। लगातार धमकियों और रेप से तंग आकर पीड़िता ने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।

इस मामले को लेकर मृतक बच्ची के पिता ने सोमवार को भवनाथपुर थाने में मामला दर्ज कराया है. प्राथमिकी के लिए दिए गए आवेदन में मृतक बच्ची के पिता ने अपने साढू भवनाथपुर थाना क्षेत्र के झगड़ाखांड़ गांव निवासी प्रयाग राम के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

अर्जी में कहा गया है कि 18 वर्षीया पुत्री की कुछ माह से तबीयत खराब चल रहा था। कथित ओझा गुणी का काम करने वाले युवती के मौसा झगड़ाखांड़ निवासी प्रयाग राम झाड़ फूंक के लिए युवती को अपने घर ले गए।

बताया गया कि 4 मई को प्रयाग राम पीड़िता को अपने घर ले गया। तब पीड़िता ने अपनी मां को मौसा की हरकत बताई। साथ ही यह भी कहा गया कि प्रयाग राम ने किसी को रेप के बारे में बताने पर भूत-प्रेत का इस्तेमाल कर पूरे परिवार को जान से मारने की धमकी दी है। लेकिन सारा मामला जानने के बाद भी पीड़िता के परिजन समाज की शर्म के डर से खामोश रहे।

बताया गया कि 14 मई को गांव में एक शादी में आया प्रयाग राम पीड़िता के घर गया और उसे फिर धमकाया। इससे तंग आकर पीड़िता ने रविवार सुबह फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। मृतका के पिता के अनुसार उस समय वह घर में अकेली थी। परिवार के अन्य सदस्य जंगल में केंदू का पता तोड़ने गए थे।

इधर, मृतक के पिता के आवेदन के आलोक में भवनाथपुर थाना पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।