Breaking :
||झारखंड एकेडमिक काउंसिल कल जारी करेगा मैट्रिक और इंटर का रिजल्ट||लातेहार: चुनाव प्रशिक्षण में बिना सूचना के अनुपस्थित रहे SBI सहायक पर FIR दर्ज||ED ने जमीन घोटाला मामले में आरोपियों के पास से बरामद किये 1 करोड़ 25 लाख रुपये||झारखंड में हीट वेब को लेकर इन जिलों में येलो अलर्ट जारी, पारा 43 डिग्री के पार||सतबरवा सड़क हादसे में मारे गये दोनों युवकों की हुई पहचान, यात्री बस की चपेट में आने से हुई थी मौत||झारखंड: रामनवमी जुलूस रोके जाने से लोगों में आक्रोश, आगजनी, पुलिस की गाड़ियों में तोड़फोड़, लाठीचार्ज||लातेहार में भीषण सड़क हादसा, दो बाइकों की टक्कर में तीन युवकों की मौत, महिला समेत चार घायल, दो की हालत नाजुक||बड़ी खबर: 25 लाख के इनामी समेत 29 नक्सली ढेर, तीन जवान घायल||पलामू: महुआ चुनकर घर जा रही नाबालिग से भाजपा मंडल अध्यक्ष ने किया दुष्कर्म, आरोपी की तलाश में जुटी पुलिस||झामुमो केंद्रीय समिति सदस्य नज़रुल इस्लाम ने मोदी को जमीन में 400 फीट नीचे गाड़ने की दी धमकी, भाजपा प्रवक्ता ने कहा- इंडी गठबंधन के नेता पीएम मोदी के खिलाफ बड़ी घटना की रच रहे साजिश
Sunday, April 21, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरपलामूपलामू प्रमंडल

दिल्ली पुलिस ने फर्जी वेबसाइट के जरिये करोड़ों की ठगी करने के आरोपी को पलामू से पकड़ा

पलामू : दिल्ली पुलिस की टीम ने साइबर क्राइम मामले में पलामू जिले के लेस्लीगंज निवासी रोशन कुमार मेहता को उसके घर से गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार साइबर अपराधी को सोमवार को स्थानीय अदालत में पेश किया गया। कोर्ट के आदेश पर दिल्ली पुलिस साइबर अपराधी को अपने साथ ले जायेगी। रोशन ने विभिन्न कंपनियों की फर्जी वेबसाइट के जरिये 1 करोड़ 55 लाख रुपये की ठगी की है।

दिल्ली में मामला दर्ज होने के बाद पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई थी। इसी बीच सूचना मिली कि इसके तार पलामू से जुड़ा हुआ है। पुलिस आरोपी रोशन कुमार मेहता की तलाश में उसके घर पहुंची। यहीं से उसे गिरफ्तार कर लिया गया।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

10वीं तक पढ़ा रोशन साइबर अपराधियों के इंटरस्टे गैंग का सदस्य है। उसने अपने साथियों के साथ मिलकर एक करोड़ रुपये की धोखाधड़ी की है। रोशन का गिरोह नामी कंपनियों की फर्जी वेबसाइट बनाकर लोगों से ठगी करता है। ओला स्कूटी, पतंजलि जैसी कंपनियों की वेबसाइट बनाकर ठगी की गयी है।

ठगी के शिकार लोगों की शिकायत के बाद दिल्ली पुलिस ने वेबसाइट पर दिये गये मोबाइल नंबर को खोजा। उसकी सीडीआर निकाली और वेबसाइट पर दिये गये बैंक खाते से किये गये ऑनलाइन ट्रांजेक्शन की जानकारी जुटायी। तकनीकी जांच के बाद दिल्ली पुलिस की टीम छापेमारी के लिए पलामू पहुंची। गिरफ्तार रोशन कुमार मेहता से पूछताछ की और उसके बैंक डिटेल के बारे में पूरी जानकारी ली। रोशन का गिरोह बिहार, यूपी, पश्चिम बंगाल, हरियाणा तक साइबर ठगी में लगा हुआ है।

Palamu Latest News Today